news entertainment

हिंदू आतंकवादी वाले बयान पर बोले कमल हसन, लोगों को मेरा बयान पूरा सुनना चाहिए, जो कहा सच है

0 4

साउथ सिनेमा के सुपरस्टार कमल हासन ने तमिलनाडु में चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि मैं यह बात इसलिए नहीं कह रहा हूं क्योंकि यहां काफी संख्या में मुसलमान है। मैं यह इसलिए कह रहा हूं क्योंकि यहां महात्मा गांधी की मूर्ति सामने है। स्वतंत्र भारत में पहला आतंकवादी एक हिंदू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे था।

अब कमल हासन की आलोचना की जा रही है। लेकिन वह अपने बयान पर बरकरार है। उन्होंने कहा कि मेरा बयान बिना पूरे सुनें ही लोगों ने मेरी आलोचना करना शुरू कर दी। उनको मेरा बयान पूरा सुनना चाहिए। इसके बाद ही आपको मेरे बयान की संदर्भ पता लगेगी।

कमल हासन ने बताया कि लोगों को मेरी टिप्पणी पसंद नहीं आई। मैं हिंदू परिवार से ताल्लुक रखता हूं। मेरा उद्देश्य किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं है। लेकिन लोग बिना पूरा बयान सुने ही मेरी निंदा कर रहे हैं। सच हमेशा कड़वा होता है और कड़वाहट दवा में बदल जाती है।

इस बयान की देश में ही नहीं बल्कि फिल्म इंडस्ट्री में भी निंदा हो रही है। विवेक ओबेरॉय ने लिखा कि कमल सर आप बहुत महान है। आपको बता दें कि कला का कोई धर्म नहीं होता है। उसी तरह आतंकवाद का भी कोई धर्म नहीं है। आप नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कह सकते हैं। लेकिन हिंदू शब्द का प्रयोग क्यों कर रहे हैं। आप इसलिए ऐसा कह रहे हैं क्योंकि आपको मुस्लिम बहुल इलाके में वोट पाने हैं।

पायल रोहतगी ने भी कमल हासन को अपना निशाना बनाया। उन्होंने ट्विटर पर कहा कि एक हिंदू ने दूसरे हिंदू को मारा। गोडसे ने गांधी जी की हत्या की। आप गोडसे को हत्यारा कह सकते हैं। लेकिन आतंकवादी कैसे। आतंकवादी दूसरे धर्मों के लोगों को मारते हैं क्योंकि उनको दूसरे धर्म के लोगों से नफरत होती है। बुढ़ापे में लोगों का दिमाग सटक जाता है। कमल हासन भी राजनीति में अपना करियर शुरू करने के लिए नाथूराम गोडसे को भारत का पहला हिंदू आतंकवादी बता रहे हैं। वह मुस्लिम बहुल इलाके में वोट पाने के लिए नफरत फैला रहे हैं। मोहम्मद अली जिन्ना भारत का पहला आतंकवादी था, जिसने भारत का विभाजन करवाया और मासूमों की हत्या की।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »